Akash Kumar • The TutorliV
Akash Kumar

Akash Kumar

@akashkumar19709

Hi everyone, I am an engineer by profession and currently aspirant of UPSC CSE & BPSC. I also helper cum guider of those who preparing to take government service Group B, C and D.

Follow for more updated post and mock test. 😊

Followers :2

Address :Siwan, Bihar, India

Posts : 24

Akash Kumar
Akash Kumar
17/07/2024, 16:06:05

MANAS – India’s First toll-free National Anti-Narcotics Helpline

 

manas india's first toll free national anti narcotics helpline, The Union Home Minister, Amit Shah, is set to launch India’s first-ever toll-free national helpline for narcotics-related issues. The full form of MANAS (Madak Padarth Nisedh Asuchna Kendra). The helpline, which has a specific phone number (1933) and an email address (info.ncbmanas@gov.in), is meant to give people a safe and easy way to report drug-related activities.

 

India wants to be drug-free by 2047.

Akash Kumar
Akash Kumar
17/07/2024, 02:29:24

Paris Olympics 2024

The 2024 Olympic Games in Paris, scheduled from July 26 to August 11, are set to be the largest event ever organized in France. This edition, officially known as the XXXIII Olympiad, will showcase an array of new events, format changes, and a strong focus on sustainability and youth engagement.

Akash Kumar
Akash Kumar
7/8/2024, 6:29:16 PM

Top 50 insane war movies 🪖🎖

1. Saving Private Ryan (1998)
2. Apocalypse Now (1979)
3. Full Metal Jacket (1987)
4. Platoon (1986)
5. Black Hawk Down (2001)
6. Das Boot (1981)
7. The Thin Red Line (1998)
8. Paths of Glory (1957)
9. Hacksaw Ridge (2016)
10. 1917 (2019)
11. Dunkirk (2017)
12. Patton (1970)
13. Gallipoli (1981)
14. We Were Soldiers (2002)
15. Bridge on the River Kwai (1957)
16. The Deer Hunter (1978)
17. The Hurt Locker (2008)
18. Letters from Iwo Jima (2006)
19. Tears of The Sun (2003)
20. Black Book (2006)
21. Stalingrad (1993)
22. Lone Survivor (2013)
23. The Longest Day (1962)
24. The Bridge at Remagen (1969)
25. Zero Dark Thirty (2012)
26. Jarhead (2005)
27. The Patriot (2000)
28. Tora! Tora! Tora! (1970)
29. Master and Commander: The Far Side of the World (2003)
30. Enemy at the Gates (2001)
31. Glory (1989)
32. The Great Escape (1963)
33. All Quiet on the Western Front (1930)
34. The Wind That Shakes the Barley (2006)
35. Lone Survivor (2013)
36. Enemies at the Gates (2001)
37. The Green Berets (1968)
38. The Alamo (1960)
39. The Messenger (2009)
40. 13 Hours: The Secret Soldiers of Benghazi (2016)
41. 12 Strong (2018)
42. The Last of the Mohicans (1992)
43. The Pianist (2002)
44. Rescue Dawn (2006)
45. The Beast of War (1988)
46. A Bridge Too Far (1977)
47. Behind Enemy Lines (2001)
48. Inglourious Basterds (2009)
49. The Boys in Company C (1978)
50. Red Tails (2012)

Akash Kumar
Akash Kumar
7/7/2024, 7:58:48 AM

Top 100 movies based on true events.

1. Schindler's List (1993)
2. Titanic (1997)
3. A Beautiful Mind (2001)
4. The Pursuit of Happyness (2006)
5. Apollo 13 (1995)
6. 12 Years a Slave (2013)
7. The Imitation Game (2014)
8. Spotlight (2015)
9. The Revenant (2015)
10. Sully (2016)
11. Hacksaw Ridge (2016)
12. Dunkirk (2017)
13. The Post (2017)
14. Darkest Hour (2017)
15. Bohemian Rhapsody (2018)
16. Green Book (2018)
17. Vice (2018)
18. First Man (2018)
19. The Social Network (2010)
20. Ford v Ferrari (2019)
21. 1917 (2019)
22. Just Mercy (2019)
23. Bombshell (2019)
24. Harriet (2019)
25. Judas and the Black Messiah (2021)
26. The Trial of the Chicago 7 (2020)
27. Richard Jewell (2019)
28. Captain Phillips (2013)
29. The King's Speech (2010)
30. The Blind Side (2009)
31. Dallas Buyers Club (2013)
32. Moneyball (2011)
33. American Sniper (2014)
34. The Theory of Everything (2014)
35. Erin Brockovich (2000)
36. Goodfellas (1990)
37. Hotel Rwanda (2004)
38. 127 Hours (2010)
39. The Fighter (2010)
40. Zero Dark Thirty (2012)
41. Bridge of Spies (2015)
42. Unbroken (2014)
43. The Founder (2016)
44. Hidden Figures (2016)
45. The Danish Girl (2015)
46. Invictus (2009)
47. The Elephant Man (1980)
48. Catch Me If You Can (2002)
49. Sully (2016)
50. The Pianist (2002)
51. Into the Wild (2007)
52. Ray (2004)
53. Milk (2008)
54. Born on the Fourth of July (1989)
55. The Hurricane (1999)
56. The Last King of Scotland (2006)
57. The Wolf of Wall Street (2013)
58. The Great Debaters (2007)
59. The Fighter (2010)
60. The Butler (2013)
61. The Big Short (2015)
62. American Hustle (2013)
63. Invictus (2009)
64. Lincoln (2012)
65. The Pursuit of Happyness (2006)
66. The Aviator (2004)
67. Lawrence of Arabia (1962)
68. The Elephant Man (1980)
69. My Left Foot (1989)
70. Chaplin (1992)
71. Frida (2002)
72. Hotel Rwanda (2004)
73. Monster (2003)
74. Zodiac (2007)
75. Selma (2014)
76. Steve Jobs (2015)
77. Jackie (2016)
78. The Walk (2015)
79. The Man Who Knew Infinity (2015)
80. The Post (2017)
81. All the Money in the World (2017)
82. Molly's Game (2017)
83. The Florida Project (2017)
84. The 33 (2015)
85. The Railway Man (2013)
86. Stronger (2017)
87. Loving (2016)
88. Snowden (2016)
89. The Lost City of Z (2016)
90. The Founder (2016)
91. The Front Runner (2018)
92. The Disaster Artist (2017)
93. The Current War (2017)
94. The Favourite (2018)
95. Stan & Ollie (2018)
96. BlacKkKlansman (2018)
97. On the Basis of Sex (2018)
98. Judy (2019)
99. Bombshell (2019)
100. The Irishman (2019)

Akash Kumar
Akash Kumar
6/17/2024, 2:27:29 AM

06 सितंबर, 2018 को, भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने ऐतिहासिक फैसले में सर्वसम्मति से धारा 377 के उस हिस्से को रद्द कर दिया, जो समलैंगिक यौन संबंधों को अपराध मानता था और कहा कि यह समानता और गरिमा के संवैधानिक अधिकार का उल्लंघन करता है।

इससे जुड़ी जानकारी के लिए हम मर्डर इन महिम वेब सीरीज सलाह दे सकते है।

Shivani Raghuvanshi का रोल और उनकी कार्य  सभी लड़कों के लिए चिंता का विषय बनाएगी की अभी से ही उनको अच्छी जनसाथी मिलना संभव नही हो रहा है बाद में ऐसे ही प्रिय अति सुंदर कन्या पुरुषो की स्तिथि से हटकर स्त्रियों की ओर आकर्षित होने लगे तो भविष्य में तकलीफ का सामना करना पड़ सकता है। बाकी हम माननीय सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया के फैसले का आदर और सम्मान करते है कि सभी का अपना राइट्स है।

बाकी तो हमारे विजय राज जी और विराज राणा सर है ही सीनियर एक्टर है काफी अच्छा प्रदर्शन रहा। हम बच्चो और बचिए से इतनी उम्मीद कर सकते है और दिशा निर्देश दे सकते है की वह अपने विपरीत मनुष्य से आकर्षण बनाए और समलैंगिक से दूर रहे खास करके स्त्री बच्चे क्योंकि ऐसे ही लडको को मिल नही रही है वैसे में ऐसे होने लगे तो सक्सेस रेट गिर जाती है।

Murder in Mahim webseries 

आपको देख कर कुछ जिक्र करने का दिल चाहता है
Shivani Raghuvanshi - क्या अदा क्या नखरे तेरे पारो, दिल के टुकड़े हो गए हजारों
Ashutosh Rana - भाई का जलवा ही अलग है
विजय राज - बवाल

#MurderInMahimOnJioCinema #MurderInMahim

Akash Kumar
Akash Kumar
6/13/2024, 6:04:00 AM

मेरा हमेशा से यह मानना रहा है कि दुनिया में ‌जितना बदलाव हमारी पीढ़ी ने देखा है वह ना तो हमसे पहले किसी पीढ़ी ने देखा है और ना ही हमारे बाद किसी पीढ़ी के देखने की संभावना लगती है

हम वह आखिरी पीढ़ी हैं जिसने बैलगाड़ी से लेकर सुपर सोनिक जेट देखें हैं.बैरंग ख़त से लेकर लाइव चैटिंग तक देखा है और असंभव लगने वाली बहुत सी बातों को संभव होता देखा है.

● हम वो आखिरी पीढ़ी हैं

जिन्होंने कई-कई बार मिटटी के घरों में बैठ कर परियों और राजाओं की कहानियां सुनीं, जमीन पर बैठ कर खाना खाया है, प्लेट में चाय पी है।

● हम वो आखिरी लोग हैं…

जिन्होंने बचपन में मोहल्ले के मैदानों में अपने दोस्तों के साथ पम्परागत खेल, गिल्ली-डंडा, लँगड़ी टांग, आइस पाइस, छुपा-छिपी, खो-खो, कबड्डी, कंचे, सितोलिया जैसे खेल खेले हैं।

● हम वो आखिरी पीढ़ी के लोग हैं

जिन्होंने चिमनी , लालटेन, कम या बल्ब की पीली रोशनी में होम वर्क किया है और चादर के अंदर छिपा कर नावेल पढ़े हैं।

● हम उसी पीढ़ी के लोग हैं…

जिन्होंने अपनों के लिए अपने जज़्बात, खतों में आदान प्रदान किये हैं और उन ख़तो के पहुंचने और जवाब के वापस आने में महीनों तक इंतजार किया है।

● हम उस आखिरी पीढ़ी के लोग हैं

जिन्होंने कूलर, एसी या हीटर के बिना ही बचपन गुज़ारा है। और बिजली के बिना भी गुज़ारा किया है।

जो अक्सर अपने छोटे बालों में, सरसों का ज्यादा तेल लगा कर, स्कूल और शादियों में जाया करते थे।

जिन्होंने स्याही वाली दावात या पेन से कॉपी, किताबें, कपडे और हाथ काले, नीले किये है। तख़्ती पर सेठे की क़लम से लिखा है और तख़्ती घोटी है।

जिन्होंने टीचर्स से मार खाई है. और घर में शिकायत करने पर फिर मार खाई है

जो मोहल्ले के बुज़ुर्गों को दूर से देख कर, नुक्कड़ से भाग कर, घर आ जाया करते थे. और समाज के बड़े बूढों की इज़्ज़त डरने की हद तक करते थे।

जिन्होंने अपने स्कूल के सफ़ेद केनवास शूज़ पर, खड़िया का पेस्ट लगा कर चमकाया हैं
काफी समय तक सुबह काला या लाल दंत मंजन या सफेद टूथ पाउडर इस्तेमाल किया है और कभी कभी तो नमक से या लकड़ी के कोयले से दांत साफ किए हैं।

जिन्होंने चांदनी रातों में, रेडियो पर BBC की ख़बरें, विविध भारती, आल इंडिया रेडियो, बिनाका गीत माला और हवा महल जैसे प्रोग्राम सुने हैं।

Akash Kumar
Akash Kumar
6/12/2024, 1:48:26 PM

  1. Prem Singh Tamang became the Chief Minister of Himalayan state Sikkim on June 10 took oath for the second consecutive term.
  2. First woman helicopter pilot of the Indian Navy - Anamika B Rajeev
  3. ‘AIM – ICDK Water Challenge 4.0’, recently seen in news - The Atal Innovation Mission (AIM) under NITI Aayog launched two initiatives: the ‘AIM – ICDK Water Challenge 4.0’ and the fifth edition of the ‘Innovations for You’ handbook.
  4. Suhelwa Wildlife Sanctuary, recently seen in the news is located in- Uttar Pradesh

Akash Kumar
Akash Kumar
6/5/2024, 2:57:34 PM

मोदी सरकार अब नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू के भरोसे चलेगी। ऐसे में अब ये दोनों नेता पीएम मोदी से भी अधिक पावरफुल नजर आएंगे। नीतीश कुमार की 3 पुरानी मांग भी पीएम मोदी को माननी पड़ेगी, नहीं तो दिल्ली का सिंहासन कभी भी हिल सकता है।

क्या है नीतीश कुमार की 3 मांग
नीतीश कुमार की मांग

  1. बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलवाना और स्पेशल पैकेज दिलवाना ताकि बिहार के विकास को और गति मिल सके। 
  2. पूरे देश में जातिगत जनगणना करवाने की।
  3. बिहार में सेंट्रल यूनिवर्सिटी देने की।

#NitishKumar

Akash Kumar
Akash Kumar
5/10/2024, 4:48:23 PM

केशिकत्व (Capillary) : जब बहुत पतली नली में द्रव भरा रहता है तो वह उपर चढ़ने लगता है इसी गुण को केशिकत्व कहते है।

(1) बत्ती में तेल का चढ़ना

(2) स्याही का कागज पर फैल जाना

(3) पारा का नली में उपर चढ़ना

(4) इटे या ढेला को जल का सोख लेना

(5) बरसात के बाद भूमि द्वारा जल की सोख लेना

• किन्तु बरसात खत्म होने के बाद पानी वापस निकलने लगता है, जिस कारण किसान बरसात के तुरंत बाद खेत जोद देता है। ताकि केशिकल्व टूट जाए।

• पेड़ द्वारा जल एवं खनिज का अवशोषण किंन्तु पेड़ में केशिकत्व के अतिरिक्त जल सोखने के लिए जाइलम होता है

Akash Kumar
Akash Kumar
5/16/2024, 11:40:54 AM

इतिहास में नवरत्न हुए :

भारतीय परंपरा के अनुसार नवरत्न मे

1. चंद्रगुप्त विक्रमादित्य के नवरत्न 

  1. अमरसिंह (संस्कृत कोशकार और कवि) 
  2. धन्वंतरी (प्रसिद्ध चिकित्सक)
  3. हरिसेना (कवि/लेखक)
  4. कालिदास (प्रसिद्ध कवि, नाटककार)
  5. कहापनका (ज्योतिषी), 
  6. संकू (वास्तुकार)
  7. वराहमिहिर (खगोलविद)
  8. वररुचि (व्याकरणिक, संस्कृत) विद्वान)
  9.  वेतलभट्ट (जादूगर)

2. अकबर के नवरत्न

  1. राजा बीरबल
  2. मियां तानसेन
  3. अबुल फजल
  4. फैजी
  5. राजा मान सिंह
  6. राजा टोडर मल
  7. मुल्ला दो पियाजा
  8. फकीर अजियाओ-दीन
  9. अब्दुल रहीम खान-ए-खाना

मराठा शासक छत्रपति शिवाजी महाराज के सलाहकार परिषद को अष्टप्रधान कहा जाता था। अष्टप्रधान के अन्तर्गत पेशवा, अमात्य, वाकियानवीस, सुमन्त, शुरूनवीस, सर-ए-नौबत, पण्डितराव एवं न्यायाधीश - आठ पद सम्मिलित थे।

विजयनगर साम्राज्य के शासक कृष्णदेवराय के सलाहकार परिषद को आस्तदिग्गाज कहते थे।

  1. अल्लसानि पेदन्न
  2. नन्दि तिम्मन
  3. धूर्जटि
  4. मादय्यगारि मल्लन
  5. अय्यलराजु रामभध्रुडु
  6. पिंगळि सूरन
  7. रामराजभूषणुडु (भट्टुमूर्ति)
  8. पंडित तेनालि रामकृष्णा

 

Akash Kumar
Akash Kumar
05/05/2024, 13:52:24

व्यक्तिगत सत्याग्रह प्रकृति में सीमित, प्रतीकात्मक और अहिंसक था और सत्याग्रही को चुनने का अधिकार महात्मा गांधी पर छोड़ दिया गया था। यह आंदोलन 17 अक्टूबर 1940 को शुरू हुआ। विनोबा भावे पहले सत्याग्रही थे, जवाहरलाल नेहरू दूसरे सत्याग्रही थे, ब्रह्म दत्त तीसरे सत्याग्रही थे। हरजन बंदू और हरिजन स्वाक महात्मा गांधी के दो पत्र थे

Akash Kumar
Akash Kumar
05/05/2024, 13:02:21

हावड़ा षड्यंत्र केस​:

  • इंस्पेक्टर शमसुल आलम, जो बंगाल पुलिस में उपाधीक्षक और खुफिया अधिकारी थे, की 24 जनवरी 1910 को हत्या कर दी गई थी।
  • 29 जनवरी 1910 को अनुशीलन समिति के 47 भारतीय राष्ट्रवादियों को इस हत्याकांड में गिरफ्तार किया गया और उन पर मुकदमा चलाया गया। बाद में उनमें से 33 को बरी कर दिया गया।
  • जतिंद्रनाथ मुखर्जी और नरेंद्रनाथ बट्टाचार्जी को एक-एक वर्ष के कारावास की सजा सुनाई गई।
  • इस मामले ने अनुशीलन समिति के नेटवर्क और जतिंद्रनाथ मुखर्जी के कार्यों को अंग्रेजों की जांच के दायरे में ला दिया।

लाहौर षड़यंत्र केस​:

  • लाहौर में साइमन कमीशन विरोधी विरोध के दौरान, लाला लाजपत राय को गंभीर लाठियां मिलीं और अंततः उनकी मृत्यु हो गई।
  • इसने एक बार फिर हिंदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन के क्रांतिकारियों को उकसाया।
  • 17 दिसंबर 1928 को, जॉन सॉन्डर्स, सहायक पुलिस अधीक्षक, जो लाहौर में लाठीचार्ज के लिए जिम्मेदार थे, को भगत सिंह और शिवराम राजगुरु ने गोली मार दी थी। चंद्रशेखर आजाद और सुखदेव थापर ने उनका समर्थन किया।

दिल्ली षडयंत्र केस​:

  • इस घटना को दिल्ली-लाहौर षडयंत्र के नाम से भी जाना जाता है।
  • यह बंगाल और पंजाब में भूमिगत भारतीय क्रांतिकारी द्वारा आयोजित किया गया था और भारत के तत्कालीन वायसराय लॉर्ड हार्डिंग की हत्या के लिए रास बिहारी बोस की अध्यक्षता में किया गया था।
  • बसंत कुमार विश्वास, अमीर चंद, और अवध बिहारी को इस दिल्ली षडयंत्र मामले के मुकदमे में दोषी ठहराया गया और उन्हें फांसी दी गई।

अलीपुर षडयंत्र केस

  • अलीपुर बॉम्बे केस ट्रायल मुजफ्फरपुर के जिला न्यायाधीश की हत्या के प्रयास को संदर्भित करता है।
  • अरबिंदो घोष को अलीपुर बम मामले में चित्तरंजस दास ने बचाव किया था।
  • अलीपुर बम कांड की साजिश वर्ष 1908 में हुई थी।
  • इसे मानिकटोला बम साजिश या मुरारीपुकर साजिश के रूप में भी जाना जाता है।

Akash Kumar
Akash Kumar
02/05/2024, 16:00:17

फीस समय की या अनुभव की?
.
एक विशाल जहाज का इंजन खराब हो गया। लाख कोशिशों के बावजूद कोई इंजीनियर उसे ठीक नहीं कर सका। फिर किसी ने एक मैकेनिकल इंजीनियर का नाम सुझाया जिसे इस तरह के काम का 30 से अधिक वर्षों का अनुभव था। उसे बुलाया गया। इंजीनियर ने वहां पहुंचकर इंजन का ऊपर से नीचे तक बहुत ध्यान से निरीक्षण किया। सब कुछ देखने के बाद इंजीनियर ने अपना बैग उतारा और उसमें से एक छोटा सा हथौड़ा निकाला। फिर उसने इंजन पर एक जगह हथोड़े से धीरे से खटखटाया। और कहा कि अब इंजन चालू करके देखें। और सब हैरान रह गए जब इंजन फिर से चालू हो गया। इंजन ठीक करके इंजीनियर चला गया। जहाज के मालिक ने जब इंजीनियर से जहाज की मरम्मत करने की फीस पूछी, तो इंजीनियर ने कहा- 20,000 डॉलर।
"क्या?!" मालिक चौंका। "आपने लगभग कुछ नहीं किया। मेरे आदमियों ने मुझे बताया था कि तुमने एक हथोड़े से इंजन पर सिर्फ थोड़ा सा खटखटाया था। इतने छोटे काम के लिए इतनी फीस? आप हमें एक विस्तृत बिल बनाकर दें।"
इंजीनियर ने बिल बनाकर दे दिया। उसमें लिखा था:
हथौड़े से खटखटाया: $2
कहां और कितना खटखटाना है: $19,998
फिर इंजीनियर ने जहाज के मालिक से कहा - अगर मैं किसी काम को 30 मिनट में कर देता हूं तो इसलिए कि मैंने 30 साल यह सीखने में लगा दिए कि उसे 30 मिनट में कैसे किया जाता है। मैंने आपको 30 मिनट नहीं दिए, इतने समय में मेरे 30 वर्षों का अनुभव दिया है। फीस कितना समय लगा उसकी नहीं मेरे अनुभव की है। जहाज का मालिक बहुत शर्मिंदा हुआ और उसने ख़ुशी ख़ुशी इंजीनियर को उसकी फीस दे दी।
.
तो किसी की विशेषज्ञता और अनुभव की सराहना करें... क्योंकि ये उनके वर्षों के संघर्ष, प्रयोग, मेहनत और आंसुओं का परिणाम हैं।

#tutorliv #NOW

Akash Kumar
Akash Kumar
4/20/2024, 8:23:35 AM

डुआर्टे बारबोसा 1500 और 1516-1517 के बीच एक पुर्तगाली था जो तुलुव वंश के शासक कृष्णदेवराय के शासन काल में आया था।

हो सकता है की जो बारबोसा हम पाइरेट्स ऑफ कैरिबियन मूवी में देखते है वही हो जो भारत भी आया हो।

More information about बारबोसा,

https://explorehampi.com/duarte-barbosa-vijayanagara-visit/

Akash Kumar
Akash Kumar
4/18/2024, 11:31:10 AM

राजिया का प्रेमी याकूब खा आश्वशाला का प्रधान था 1240 ई० में राजिया अल्तुनिया से विवाह कर लेती है पर काबुल क्षेत्र से आते वक्त डाकुओं की गिरोह ने राजिया+ अल्तुनियां की हत्या कर देते है और उनके साथ लाए हुए धन को लूट लेते है।

कहा जाता है कि याकूब खा राजिया से बचपन से ही प्यार करता था वह आश्वशला का प्रधान था और राजिया के साथ सादी करना चाहता था पर राजिया ने जलील किया और सादी के प्रस्ताव को ठुकरा दिया। यह याकूब खा के दिल में गहरा असर पड़ा। हो सकता है की याकूब खा ही डाकू बनकर राजिया की हत्या करवाया हो, क्योंकि कहते है न मेरी नही तो किसी की नही।

दिल्ली के सरदारों को  एक महिला सुलतान बिलकुल ही पसंद नही था हो सकता है की दिल्ली के सरदार या चालीसा दल के सदस्यों के हत्या करवाया हो, राजिया का यह रहस्य मौत का जवाब इतिहास में ही दफन हो गया।

Akash Kumar
Akash Kumar
4/9/2024, 5:29:17 PM

वो वैश्या नहीं थी-💐 

बात उस समय की है जब मैं जिला जामताड़ा मे इंटरमिडियट मे था | मै जब डेली शाम को अपने कोचिंग को जाता तो रोज आते-जाते मुझे एक बूढ़ी भिखारन महिला मिलती जो रेलवे स्टेशन पर भीख माँगती, जिसे मैं डेली देखता था |
हालांकि महिला बुजुर्ग थीं और कपड़े फटे पुराने होते थे मगर देखने मे ऐसा लगता था जैसे जब ये जवान रही होंगी तो बेहद खूबसूरत रही होंगी |

मै जब प्रति दिन रेलवे फाटक पार करके कोचिंग से लौटता तो रोज देखता कि शाम को दो व्यक्ति आकर उस महिला से पैसे ले लेते थे | वह बूढ़ी महिला उन दोनों व्यक्तियों को देखते ही डरने लगती थी |

मैंने सोचा- 'हो सकता है इनका भीख मांगना ही इनका पेशा हो और ये दोनों जो इससे पैसा ले लेते है इनके कोई रिस्तेदार हों |

और हाँ, मुझे कभी-कभी उस भिखारन महिला को देखकर ऐसा महसूस भी होता था कि शायद वह महिला मुझसे कुछ कहना चाह रही हो |

एक दिन मुझसे नही रहा गया | मेरे मन में उस महिला की दुर्दशा देखकर दया उठी और उसके तथा उन दो व्यक्तियों, जो रोज उससे पैसा लेकर चले जाते थे, उन सब के बारे में विस्तार से जानने की जिज्ञासा हुई और एक दिन मै चुपके से उस भिखारन महिला के पीछे-पीछे चल पड़ा, लेकिन यह क्या----------?

मैं चौक गया !
महिला एक रेड लाइट एरिया वाले इलाके में प्रवेश करने लगी और वहां एक कोठे पर चढ़ गई | मेरे मन मे आया और मै सोचने लगा की क्या ये महिला वेश्या है....?
और अगर नही तो वो आखिर वह यहाँ क्यों आयी हैं....?
मुझे अब उस महिला से घृणा होने लगी, लेकिन मैं यहाँ ठहरने वाला कहां था |

दूसरे दिन मैं एक फर्जी कस्टमर बनकर उस बुजुर्ग महिला जिस कमरे मे गयीं थीं उसके पास पहुँचने में सफल हो गया और मैंने जो दृश्य वहां का देखा, उससे मुझे खुद से नफरत होने लगी...मैं क्यों आया ऐसी गन्दी जगह पर....!!

मुझे क्या पड़ी थी... इन सब मे -
बदबूदार कमरे,
कहीं ढोल की थाप और घुंघरुओं की मधुर ताल पर अश्लील नर्तन करती वेश्याएं,
मुंह में पान की गिलौरी दबाए और मसनद पर लेटे ललचाई नजरों से उन वेश्याओं के अंग अंग को निहारते ग्राहक |

पर मैंने देखा वहां वह बूढ़ी महिला नहीं थी |
मैंने दूसरी तरफ नजर घुमाई, तो उस महिला को एक काल कोठरी में बन्द पाया |
उसकी तरह वहाँ और भी कई महिलायें थी |
लगभग 50 से ज्यादा महिलाये होंगी.....
घुप्प अंधेरा, नीचे दरी पर बैठी घुटनों को उठाए और उस पर सिर झुकाए कुछ महिलायें बैठी थीं |

मैंने वहां से लौट जाना ही उचित समझा-

यहां की स्थिति में सुधार मेरे वश की बात नहीं थीं, लेकिन आज मुझे उस बूढ़ी महिला की सच्चाई का पता चल गया था | अगले दिन मैंने छुट्टी ले ली और आज मै फिर स्टेशन गया | स्टेशन पर वह बूढ़ी महिला पहले दिन की तरह ही भीख मांगने के लिए बैठी थी और जमीन पर अपने एल्युमिनियम का कटोरा पिट-पिटकर लोगों का ध्यान आकृष्ट कर रही थी |

मैं पहले तो उसके करीब जाकर बैठा और उसे प्यार से "माँ" के संबोधन से पुकारा |
माँ शब्दों को सुनकर वह अचंभित हो गई और बेचारी फूट-फूट कर रोने लगी |

मैने उसका परिचय पूछा, माँ आप कौन हो ? कहां से आयी हो ? बच्चे और पति कहां हैं...?
वह रोती रही और रो-रोकर उसने जो दास्तान सुनाई,
मेरे रोंगटे खड़े हो गए और इस समाज से मुझे घृणा होने लगी |

उस बूढ़ी भिखारन ने कहा कि -
बेटा हम प्यार मोहब्बत के झांसे मे पड़कर अपने माँ बाप के विरुद्ध जाकर दूसरे से शादी कर के घर से भाग गये थे....जब तक मन नही भरा तब तक इस्तेमाल करता रहा.. और जिस दिन मन भर गया न बाबू , तब हमें धोखे से कोठे पर लाकर बेच दिया....!!

यहां प्रायः जितने भी लड़कियों को तुम देख रहे हो न सब अपने प्यार मोहब्बत के नाम पर विश्वास करके घर से माँ बाप के विरुद्ध जाकर भागी लड़किया हैं...... और बाद मे जब हमें बेच दिया गया तो फिर हमें मजबूर किया जाता है वेश्या बनने के लिए |

ना चाहते हुए भी ग्राहकों को खुश करना पड़ता है | सब नोचते हैं हमें भेड़िए की तरह मानो कितने दिनों से उनकी प्यास बुझी ना हो | जब तक जवानी रहती है बेटा, तब तक हम कोठे की शान रहते हैं और जब शरीर के अंग साथ देना छोड़ने लगते हैं और ग्राहक मिलने बन्द हो जाते हैं, तब मालिक हमें पागल घोषित कर देता है और सड़कों पर, रेलवे स्टेशन पर भीख माँगने के लिए बैठा देते है और डेली उनके भेजे दलाल हमसे पैसे वसूली करते हैं | पैसे नही देने पर या विरोध करने पर मार पीट भी करते हैं | अब बूढ़ी हो चुके हम महिलाओ के पास उतनी शक्ति तो नही होती की हम उनका विरोध कर पायें....
हम बस जिंदा लाश बन उसके इशारे पर सारा काम करते रहते हैं | जब हम भीख माँगने के लायक भी नहीं बचते, तो हमें ये लावारिश सड़क पर ले जाकर फेंक जाते हैं |

यही है हम वेश्याओ की कहानी-
हम भी सोचते हैं की कास हमने अपने माता-पिता के विरुद्ध ना जाकर गलत कदम ना उठाये होते तो हमारा भी एक हँसता खेलता घर-परिवार होता |

हर मोड़ पर हमारी आंखें तलाशती हैं कि कहीं किसी मोड़ पर कोई अपना मिल जाए, जो इस जिल्लत भरी जिंदगी से छुटकारा दिलाए |

#love

Akash Kumar
Akash Kumar
30/03/2024, 14:27:19

रूसी क्रांति

यह क्रांति 1917 में फरवरी और अक्टूबर में दो अलग-अलग समय पर हुई। जारवादी सरकार का अत्याचार रूस के किसानो और मजदूरों के बीच संतोष बढ़ने लगी वही रूस के रुढ़ी वादी चर्च पर राजशाही का नियंत्रण हो गया। ऐसा कहा जाता है कि रोमानोवा राजवंश के जारशाही शासन ने ग्रामीण किसान वर्ग और शहरों में काम करने वाले मजदूरों पर अत्याचार किया। रूसी किसानों का मानना ​​था कि जिस ज़मीन पर वे खेती कर रहे हैं वह उनकी होनी चाहिए, लेकिन उस ज़मीन पर जमींदारों और पादरियों का अधिकार था।

  

Akash Kumar
Akash Kumar
30/03/2024, 14:13:45

  1. India’s Government e-Market is world’s 3rd largest e-commerce platform
  2. Today's History: 30th March

March 30,

  • 1842: Ether was used for the first time as an anesthetic.
  • 1867: America purchased Alaska from Russia.
  • 1919: Mahatma Gandhi announced his opposition to the Rowlatt Act.
  • 1982: NASA's spacecraft Columbia returned to Earth after completing the STS-3 mission.

Akash Kumar
Akash Kumar
30/03/2024, 13:58:58

India Employment Report 2024- January 6.57% Unemployment Rate

In January 2024, Unemployment Rate : 6.57% (means only 6.57% of all working population are employee.)

 

India Employment Report 2024 is produced by ILO~

Akash Kumar
Akash Kumar
30/03/2024, 13:45:41

What is Carbon Footprint?

  • As per the World Health Organization (WHO), a carbon footprint quantifies the influence of human activities on carbon dioxide (CO2) emissions generated from burning fossil fuels, typically measured in metric tons of CO2 emissions.
  • It is gauged in terms of annual CO2 emissions, a metric that may include additional greenhouse gasses such as methane, nitrous oxide, and other CO2-equivalent gasses.
  • It can be a broad measure or be applied to the actions of an individual, a family, an event, an organization, or even an entire nation.

 

 

Akash Kumar
Akash Kumar
09/03/2024, 18:32:55

'Parts Of India Are Occupied, But We...': EAM S Jaishankar

Union external affairs minister S Jaishankar criticized the western countries for cherry-picking principles to suit their interests. He said, "The world is complex, with numerous important principles and beliefs." He further added, "the nations are often emphasized on certain principles selectively, based on their immediate needs." Jaishankar said, "Post-independence, India has faced aggression and boundary challenges." He highlighted that specific principles without considering broader contexts can be misleading.

Akash Kumar
Akash Kumar
09/03/2024, 18:47:00

'Parts Of India Are Occupied, But We...': EAM S Jaishankar

Union external affairs minister S Jaishankar criticized the western countries for cherry-picking principles to suit their interests. He said, "The world is complex, with numerous important principles and beliefs." He further added, "the nations are often emphasized on certain principles selectively, based on their immediate needs." Jaishankar said, "Post-independence, India has faced aggression and boundary challenges." He highlighted that specific principles without considering broader contexts can be misleading.

 

Akash Kumar
Akash Kumar
30/03/2024, 13:51:46

Calcutta High Court clears path for Suvendu Adhikari's meeting in Sandeshkhali on March 10

 

कलकत्ता उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को एक आदेश जारी कर दक्षिण 24-परगना जिला पुलिस को बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी को 10 मार्च को संदेशखली में नज़ात पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र के तहत दक्षिण अकराटोला में एक बैठक आयोजित करने की अनुमति देने को कहा।

हालाँकि, न्यायमूर्ति जय सेनगुप्ता ने कहा कि अधिकारी को बैठक आयोजित करने की अनुमति दी जाएगी
या सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे के बीच रैली।
न्यायाधीश ने आदेश पारित करते हुए कहा, “विपक्षी दल के नेता को कोई भी भड़काऊ बयान देने की अनुमति नहीं दी जाएगी जिससे क्षेत्र की कानून व्यवस्था की स्थिति खराब हो सकती है।”
संदेशखाली में अधिकारी की रैली उस दिन होगी जब सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ब्रिगेड परेड ग्राउंड में अपनी जनार्जन रैली आयोजित करेगी, जहां, बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी के अनुसार, अशांत द्वीप से बड़ी संख्या में लोग आएंगे।
उच्च न्यायालय का आदेश अधिकारी की एक याचिका के बाद आया, जिसमें आरोप लगाया गया था
दक्षिण 24-परगना पुलिस ने अधिकारी को बैठक आयोजित करने से रोकने के लिए ही नज़ात पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र में 144 सीआरपीसी लगाई थी।
अधिकारी की ओर से पेश हुए वकील ने कहा कि तृणमूल पदाधिकारियों को क्षेत्र में प्रवेश करने की अनुमति दी जा रही है, जबकि विपक्षी दलों के नेताओं को वहां जाने से रोका जा रहा है।
वकील ने कहा, “जब विपक्षी दल, विशेष रूप से मेरे मुवक्किल, पुलिस से संपर्क कर रहे हैं, तो वे कह रहे हैं कि उन्हें अनुमति नहीं दी जाएगी क्योंकि क्षेत्र अभी भी सीआरपीसी की धारा 144 के तहत है।”
राज्य सरकार के वकील ने आरोपों का विरोध किया और कहा कि प्रशासन क्षेत्र में और कानून-व्यवस्था की समस्या नहीं चाहता।
“सरकार बार-बार विपक्षी दलों को क्षेत्र में कोई भी राजनीतिक कार्यक्रम आयोजित करने से क्यों रोक रही है? सरकार किसे बचाना चाहती है, ”न्यायाधीश सेनगुप्ता ने आदेश जारी करने से पहले पूछा।

 

Akash Kumar
Akash Kumar
09/03/2024, 13:31:15

PM Narendra Modi inaugurates Sela Tunnel/Sela Pass: Details of world's longest twin-lane tunnel in Arunachal Pradesh.

 

The tunnel provides all-weather connection to Tawang via Sela Pass on the Balipara-Chariduar-Tawang Road. Addressing a gathering in Itanagar, PM Modi said, "I laid the foundation of the Sela Tunnel here in 2019, and today it has been inaugurated".

BPSC Preliminary Mock Test 02

Paid Test

BPSC Preliminary Mock Test 01

Free Test

BPSC Test Series Short-Important

Free Test

BPSC MOCK Short Test -01

Paid Test

PSC Civil Services Exam 2024~Paper I - General Studies-Mock Test 01

Free Test

RRB Assistant Loco Pilot ~ CEN 01/2024 (Full Test-01)

Free Test

Video Not Found!

People also viewed